अपनी आईडी पर चल रही फर्जी सिम का पता लगाकर कैसे बंद करें

अपनी आईडी पर चल रही फर्जी सिम का पता लगाकर कैसे बंद करें

नमस्कार दोस्तों आज हम हमारी इस पोस्ट के माध्यम से आपको सिम बंद करने के बारे में बताएंगे। फर्जी सिम क्या है, और आप अपनी आईडी पर चल रही फर्जी सिम का पता लगाकर उसे कैसे बंद कर सकते हैं। 

अगर आपको इसके बारे में कोई विशेष जानकारी नहीं है, तो आप हमारी इस पोस्ट को ध्यानपूर्वक पढ़ते रहिए। हम आपको हमारी इस पोस्ट के माध्यम से अपनी आईडी पर चल रही फर्जी सिम को बंद करने के लिए बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करने वाले हैं।

फर्जी सिम क्या है -

जब कभी भी कोई नया सिम कार्ड खरीदा जाता है, तो उसके साथ फोटो और पहचान पत्र के रूप में ड्राइविंग लाइसेंस या फिर आधार कार्ड की फोटो कॉपी लगानी पड़ती है। लेकिन बहुत बार जब हम किसी लोकल के प्रोवाइडर से सिम खरीदते हैं, तो वह हमारे फोटो और पहचान पत्र का उपयोग करके बहुत सारे फर्जी सिम जारी करके उन्हें फ्रॉड करने वाले लोगों को बेच देता है।

इसलिए जब भी हमारे नाम पर जारी किए गए इस फर्जी सिम कार्ड को किसी आपराधिक गतिविधि में उपयोग किया जाता है। तब उस अपराध के लिए आप ही को जिम्मेदार माना जाता है, और कई बार तो इसके लिए जेल में भी जाना पड़ सकता है।

अपनी ID की फर्जी सिम के बारे में कैसे पता करें -

इससे बचने के लिए आप भी अपनी आईडी पर चल रही सभी सिम की जानकारी को ऑनलाइन पता कर सकते हैं। और इनमें से आपकी आईडी पर चल रही सभी फर्जी सिम को सरकारी पोर्टल के माध्यम से ब्लॉक भी कर सकते हैं। 

भारत सरकार के दूरसंचार विभाग दुआ tafcop.dgtelecom.gov.in डोमेन से एक सरकारी पोर्टल को लॉन्च किया गया है। 

इस पोर्टल में पूरे भारतवर्ष में उपयोग किए जा रहे सभी मोबाइल नंबर का डाटाबेस अपलोडेड है। भारत सरकार द्वारा यह पोर्टल स्पैम और फ्रॉड पर लगाम लगाने की कोशिश है। 

अगर आपको लगता है कि आपके नाम से कोई अन्य भी मोबाइल नंबर इस्तेमाल कर रहा है, तो आप इसी वेबसाइट के जरिए शिकायत कर सकते हैं। 

सरकारी पोर्टल से फर्जी सिम कैसे ब्लॉक करें- 

एक व्यक्ति द्वारा अपनी आईडी से ज्यादा से ज्यादा केवल 9 सिम ही जारी करवाए जा सकते हैं। इसलिए जब कभी भी आपको लगता है, कि आप ही आईडी से कोई फर्जी सिम का उपयोग किया जा रहा है, तो आप उस सरकारी पोर्टल के माध्यम से उस नंबर को ब्लॉक कर सकते हैं। 

नीचे दी गई स्टेप्स को फॉलो करके सरकारी पोर्टल से नंबर को ब्लॉक किया जा सकता है- 

सबसे पहले दूरसंचार विभाग के tafcop.dgtelecom.gov.in पोर्टल पर जाकर वहां अपना 10 अंकों का मोबाइल नंबर दर्ज करना होगा। 

जिसके बाद वेरिफिकेशन के लिए आपके मोबाइल पर आए हुए ओटीपी को डालकर मोबाइल नंबर वेरीफाई करना होगा। 

इसके बाद आपके सामने आपकी आईडी पर जारी किए गए सभी मोबाइल नंबर की लिस्ट आ जाएगी। 

यूजर्स के द्वारा इनमें से सभी फर्जी नंबर की शिकायत इसी सरकारी पोर्टल पर की जा सकती है। 

फर्जी नंबर की शिकायत करने के बाद आपके बताए हुए नंबर की जांच की जाएगी। जांच के बाद अगर यह सभी फर्जी नंबर आपकी आईडी से संबंधित पाए जाते हैं तो उन्हें ब्लॉक कर दिया जाएगा। 

नोट - 

भारत सरकार के दूरसंचार विभाग द्वारा अभी tafcop.dgtelecom.gov.in पोर्टल को फिलहाल देश के कुछ चुनिंदा सर्कल के लिए ही रोल आउट किया गया है। लेकिन जल्द ही भारत सरकार की तरफ से देश के सभी सर्किल में बि tafcop.dgtelecom.gov.in पोर्टल को रोलआउट कर दिया जाएगा। 

निष्कर्ष 

हमने आपको आज की पोस्ट के माध्यम से सिम बंद करने के बारे में बताया है, कि फर्जी सिम क्या है, और आप अपनी आईडी पर चल रही फर्जी सिम को बंद कैसे कर सकते हैं। इसी प्रकार के टेक्नोलॉजी से रिलेटेड और अधिक जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट के साथ जुड़े रहे।

Post a Comment

0 Comments